कमलसिंह यादव

जिल्हा प्रतिनिधी नागपूर 

 

 

    तालुका में कुल(47.95) .547.625 मि मी बारिश दर्ज की गई है। नवेगाव खैरी जलाश्य मे 94% पानी जमा,दोपहर से 63.368क्यूमेक्स पानी पेंच नदी से कन्हान नदी मे छोड़ा जा रहा है।तालुका मे 547.625 मिमि बारिश हुई।

    आदिवासी क्षेत्र की सडक व पुलिया पानी से बय गयी।बारिश से 30 गाव प्रभावित होकर 60 घर गिरे, 250 हैक्टर खेती की फसल प्रभावित हुई।

    तहसिलदार प्रशांत सांगडे

 

   पारशिवनी: – ( स) तालुका में चल रही बारिश के कारण, पेच नदी कन्हान नदी के किनारे बसे लगभग 43 गावो के क्षेत्रों के नागरिकों को बहुत नुकसान हुआ है और बुधवार 13जुलाई तक पारशिवनी तालुका में कुल 547.625 मिमी बारिश दर्ज हुई है। तालुका में पिछले आठ दिनों से रुक-रुक कर मुसलाधार बारिश हो रही है।

  बुधवार 13 जुलाई तक पारशिवनी तहसील के आमडी विभाग में सर्वाधिक 58.8 (640.6 मिमी) बारिश हुई है।

पारशिवनी विभाग में 50.0(586..3) मिमी बारिश दर्ज की गई है।

  नवेगांव खैरी में 51.0 (552.4) मिमी बारिश हुई लेकिन कन्हान में सबसे कम 32.0 (412.2) बारिश हुई।

  पारशिवनी तालुका के सभी चार विभागो का औसत 47.95 (547.625) मिमी बारिश दर्ज कि गई है। यह जानकारी तहसीलदार प्रशांत सागड़े व कृषि मंडल अधिकारी जी बी वाघ ने दी।

    

    नवेगांव खैरी बांध क्षेत्र में भारी बारिश के कारण आज सुबह के रिकॉर्ड के मुताबिक बांध का जलस्तर 94.00% फीसदी है. पाटबंधारे विभाग पारशिवनी के उपविभागिय अधिकारी सावरकर, ज्यु इंजि विशाल दुपारे ने बताया कि पेच जलाश्य के दो दरवाजे के व्दाराआज दोपहर 2.30 बजे से पेच जलाश्य के दो दरवाजे एक फिट खोल कर 63.368 क्यूमेक्स पानी पेंच नदी मे छोड कर कन्हान नदी मे जा रहा है जो कन्हान नदी मे जा रहा है यह जानकारी देते हुये पाटबंधारे उपविभागिय अधिकारी सावरकर, ज्युनियर इंजिनियर विशाल दुपारे ने जानकारी देते हुये बताया की जलाश्य मे जब तक 90% पानी रह जाने के बाद दोनो द२वाजे बंद कर दिये जायेगे.

     पारशिवनी तहसिल कार्यालय से 

तहसीलदार प्रशांत सांगडे, जानकारी देते हुये बताया की कल बुधवार को पेच नदी और कन्हान नदी के पानी भरजाने से नदी किनारे के लगभग ३० गाव प्रभावित हुये है जिनमे मुख्यतः जुनी कामठी, करंभाड, सोनेगाव, वराज, गुढरी, सोनेगाव, सिगारदिप, बखारी गवना हिंगणा गरंडा खंडाळा, सह अनेक गावो मे लगभग 60 घर पानी के कारण बुरी तरह प्रभावित हुये है. व तहसिल की खेती मे पानी घुसकर फसल खराब होने वाली लगभग250 हैक्टर जमिन की फसल का नुकसान हुआ है. और महसुल व कृर्षी विभाग की टिम सर्वेक्षण कर पंचनामा रिर्पोट तयार कर रही है ऐसा अनुमान है कि घर गिरने व फसल नुकसान का आकंडा बढ सकता है  

उसी प्रकार आदिवासी विभाग के सार्वजनिक बाधकाम विभाग व्दारा15 किलोमिटर का घाटकुकडा से ढवलापुर का कच्चा रोड पानी से बह गया, तथा घाटपेंढरी से नरहर को जोडने वाली पुलीया भी बह गई जो वन विभाग व्दारा बनाई गई थी. कोलितमारा जि प सर्कल के जिप सदस्य राजकुमार कुसुंबे, पंचायत समिती सदस्य सौ तुलसी प्रदिप दिये वार, कोलितमारा के सरपंच कलिराम उईके, ढवलापुर की सरपंच सौ प्रिती मिथुन उईके ने संबंधीत विभागो से माग की है कि घाटकुकडा से ढवलापुर, तथा घाटपेढरी से नरहर के संपर्क तुट गये जिन्हे तुरंत चालु करने की मांग की है।

पारशिवनी तहसिलदार प्रशांत सांगडे ने पेच नदी व कन्हान नदी के किनारे बसे नागरिको व किसानो को खेत मे जाने हेतु सावधानी बरतने का आव्हान किया है।

 

रहने वाले नागरिकों और किसानों को अलर्ट रहने कहा गया है।

0Shares

By Dakhal News Bharat

भारत सरकारने फेब्रुवारी 2021 पासून अधिसूचित केलेल्या नव्या माहिती तंत्रज्ञान (IntermediaryGuidelines and Digital Media Ethics Code- Rules 2021) मध्यस्थ मार्गदर्शक सूचना आणि डिजिटल माध्यमांसाठीची आचार संहिता) नियम 2021 अंतर्गत सदर न्यूजपोर्टल Digital Media Publishers & News Portal Grievance Council of India” स्वनियमन संस्थेकडे (Rule १८नुसार) Reg. No- DMPNPGCI007 नोंदणीकृत आहे. डिजिटल माध्यमांसाठीच्या आचारसंहितेनुसार आम्ही पालन करतो. तरीही एखाद्या बातमीविषयी आपली तक्रार असल्यास भारत सरकारच्या कायद्यानुसार स्वनियमन संस्थेकडे विहित नमुन्यात अर्ज करू शकता. newsportalpublishergrievances@gmail.com

Top News